मुश्किल परिस्थितियों में डटे रहे धनंजय और रोशेन सिल्वा: दिनेश चंडीमल

नई दिल्ली: श्रीलंका क्रिकेट टीम के कप्तान दिनेश चंडीमल ने भारत के खिलाफ खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के पांचवें दिन शतकीय पारी खेलने वाले धनंजय डी सिल्वा और डेब्यू करने वाले रोशेन सिल्वा की जमकर प्रशंसा की. भारत और श्रीलंका के बीच फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेला गया तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच ड्रॉ रहा.

धनंजय ने इस मैच में श्रीलंका के लिए दूसरी पारी में 119 रन बनाए. वह रिटायर्ड हर्ट होकर पवेलियन लौटे. इसके अलावा, करियर का पहला टेस्ट खेलने वाले रोशेन ने 74 रनों की पारी खेल कर मैच ड्रॉ कराने में अहम भूमिका निभाई.

मांसपेशियों में दर्द की समस्या के कारण धनंजय आगे नहीं खेल पाए और पारी पूरी किए बगैर ही मैदान से लौट गए, वहीं रोशेन मैच के ड्रॉ होने की घोषणा तक मैदान पर डटे रहे.

मैच के बाद कप्तान चंडीमल ने कहा, "सारा श्रेय धनंजय और रोशेन को जाता है, क्योंकि वे दोनों इस प्रकार की मुश्किल परिस्थितियों में भारत के दिग्गज गेंदबाजों के आगे डटे रहे."

चंडीमल ने कहा, "मैंने काफी कड़ी मेहनत की. अपनी तकनीक में बदलाव किए और बल्लेबाजी कोच के साथ मेहनत की. यह मुश्किल समय था."

फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के दौरान प्रदूषण के कारण श्रीलंकाई खिलाड़ियों को हुई परेशानी के बारे में चंडीमल ने कहा, "श्रीलंका में हम इस प्रकार की वायु गुणवत्ता के आदी नहीं हैं और इस कारण मैच के पहले दो दिन हमें थोड़ी परेशानी हुई.

चंडीमल ने भारतीय प्रशंसकों द्वारा मिले समर्थन के लिए आभार जताया. इसके साथ ही उन्होंने, अगले साल जनवरी में होने वाले साउथ अफ्रीका दौरे के लिए भारतीय टीम को शुभकामनाएं भी दीं.

और खबरें पढ़ें